भूख से ज्यादा धर्म पर बहस होती है. - 2 Line Shayari



भूख से ज्यादा धर्म पर बहस होती है. - 2 Line Shayari






Bhukh-Se-Jyaada-Dharm-Par-Bahas-HoTi-Hai-2-Line-Shayari
Bhukh Se Jyaada Dharm Par Bahas HoTi Hai - 2 Line Shayari



बड़े ही अजब कायदे हैं मेरे मुल्क के
यहाँ भूख से ज्यादा धर्म पर बहस होती है.


Bade Hi Ajab Kayade Hain Mere Mulk Ke, Yanha Bhukh Se Jyaada Dharm Par Bahas HoTi Hain...





  Read More  

Post a Comment

0 Comments