शीशा टूट कर बिखर जाए तो - Shayari On Life,


शीशा टूट कर बिखर जाए तो - Shayari On Life, 



Shisha-Tut-Kar-Bikhar-Jaye-2-line-life-shayari
Shisha Tut Kar, Bikhar Jaye-2 Line Life Shayari



🔘
शीशा टूट कर बिखर जाए तो बेहतर है,

Post a Comment

1 Comments